web statistics
Join WhatsApp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

Sim Card New Rules: सिम कार्ड यूजर्स ध्यान दें, सिम कार्ड को लेकर 5 नए नियम लागू, सभी के लिए बड़ी खबर

संपूर्ण देश भर में मोबाइल सिम कार्ड को लेकर टेलीकॉम कंपनियों द्वारा नए नियम लागू किया जा रहे हैं। हाल ही में सरकार द्वारा फर्जी सिम कार्ड पर शक्ति से पाबंदी लगाने के लिएनए नियमों को लेकर अपडेट जारी किया हैऔर जो नए नियम लागू किया जा रहे हैं वह 1 दिसंबर से लागू किए जाएंगे।  यानी सरकार द्वारा नए साल 2024 तक सब कुछ अपडेट किया जाएगाजो सिम कार्ड बेचने वालेदुकानदार है उनको सिम कार्ड बेचने के लिए वेरिफिकेशन करवाना आवश्यक होगा।  इसके अलावा जानकारी के मुताबिक बता दें कि एक व्यक्ति एक नाम पर अधिकतम कितने सिम कार्डले सकते हैं इसको लेकर भी जानकारी सांझा की गई है, यानी सरकार इसको लेकर एक फिक्स लिमिट तय करने जा रही है।   

बहुत सारे ऐसे नए नियम है जिनको लेकर आम आदमी को पता नहीं हैऔर बहुत सारे ऐसे लोग हैं जिनको उनके नियमों के बारे में काफी सारी जानकारी हैजैसे सिम कार्ड बेचने वाले जो भी डीलर्स हैं चाहे Airtel, वोडाफोन आइडिया, जिओ,BSNL या फिर किसी भी सिम का जो डिस्ट्रीब्यूटर हैउनको अपना खुद का वेरिफिकेशन करवाना बहुत अनिवार्य होगा।  

Sim Card New Rules
Sim Card New Rules

Sim Card New Rules

अब नई सिम बेचने वाले डीलर्स को सिम कार्ड बेचने के लिएसबसे पहले रजिस्ट्रेशन करवाना होगा और किसी भी सिम बेचने वाली व्यापारी की पुलिस वेरिफिकेशन की जिम्मेदारी इस संबंधी टेलीकॉम ऑपरेटर की ही निश्चित की जाएगी। यानी कोई भी दुकानदार अगर एयरटेल की सिम भेजता है तो उसे एयरटेल कंपनी की जिम्मेदारी है कि आपका डीलर का आपकी सिम बेचने वाली व्यापारी का आप पुलिस वेरिफिकेशन करवा उसके बाद ही सिम बेचचाहे वह कोई भी आदमी हो।   यानी जो आदमी सिम कार्ड खरीद रहा है वह किसी भी प्रकार से फ्रॉड नहीं होना चाहिए क्योंकि फ्रॉड आदमी होता है तो आगे वह कुछ भी घोटाले कर सकता है इसीलिए इन नियमों को ध्यान में रखते हुएबहुत सारे अपडेट दिए हैं। यदि कोई भी व्यक्तिदुकानदार इन नियमों के अनदेखी करता है तो उनको 10000 तक का जुर्माना लगाया जाएगा।  

केंद्र सरकार की ओर से इन नियमों को सिम कार्ड बेचने वाले दुकानदारों पर सख्त कानूनऔर रोक लगाने के लिए लागू किया जा रहा है। सिम कार्ड को लेकर जो दूसरा नया नियम है उसमें आप यह पता लगा सकते हैं कि आपकी आईडी पर कितने सिम एक्टिव है और कितने सिम वर्तमान में चल रहे हैंजिसको आप आधिकारिक पोर्टल के जरिए देख सकते हैं। यह पोर्टल सरकार द्वारा लांच किया गया पोर्टल है।  

अपनी आईडी पर कितने सिम चल रहे हैं यह कैसे पता करें 

सबसे पहले आपको विभाग की आधिकारिक पोर्टल पर जाना होगा जहां पर आपकोऑप्शन मिलेगा। यदि आप अपने मोबाइल कनेक्शनमें हिंदी लैंग्वेज में अगर आप देख रहे हैं तो इस बटन पर जैसे ही आप क्लिक करोगे आपके सामने नया पेज ओपन होगा। उसके बाद आपको अपने मोबाइल नंबर डालना है और फिर कैप्चा कोड भरने हैं। यह सब करने के बाद आपके नंबर पर एक ओटीपी भेजा जाएगा उसे ओटीपी को ओट बॉक्स में भरे हुए सबमिट बटन पर क्लिक करें। यह सब करते ही आपके सामने पूरी डिटेल खुलेगी जिसमें आपके रजिस्टर आईडी कार्ड परया आपके आधार कार्ड पर और ड्राइविंग लाइसेंस पर कुल कितने सिम एक्टिवेट हैं उसकी पूरी लिस्ट खुल कर आ जाएगी। 

अब उसमेंआप यह पता लगा सकते हैं कि आपका नाम पर कितने सिम एक्टिवेट हैं कोई फर्जी सिम तो आपकी आईडी पर नहीं चल रहा हैयदि आपकी आईडी से फर्जी सिम चल रहा है तो आप उसे 1 मिनट में ब्लॉक भी कर सकते हैं। यानी आपको उसे लिस्ट में कुछ ऐसे नंबर मिलते हैं जिनको आप बिल्कुल भी इस्तेमाल नहीं करते और आपको लगता है कि आपका यह कोई फर्जी नंबर इस्तेमाल कर रहे हैं तो आप उसके आगे दिए गए बटन पर क्लिक करके उसको 1 मिनट मेंडीएक्टिवेट करवा सकते हैं यानी ब्लॉक करवा सकते हैं। 

एक आईडी पर मिलेंगे इतने सिम कार्ड 

सरकार की ओर से हाल ही में जो नियम अपडेट किया है उसके मुताबिक अब एक आईडी पर आप अधिकतम 9 सिम कार्ड ले सकते हैं। लेकिन अभी भी जम्मू कश्मीर,असम समेत उत्तर पर पूर्व में कुछ ऐसे राज्य हैं जहां पर एक व्यक्ति की आईडी पर अधिकतम 6 सिम कार्ड की लिमिट रखी गई है। लेकिन जानकारी के मुताबिक बता दें कि सरकार द्वारा आप इस काम को लेकर नया नियम अपडेट बनाया जाएगा जिसमें आप एक व्यक्ति अधिकतम एक आईडी पर तीन या चार सिम ही ले पाएगा जिसे वह एक्टिवेट कर पाएगा और फर्जी सीमा पर सरकार की ओर से लगाम लगाई जाएगी।

E-Sim कार्ड को किया जाएगा लागू 

Join WhatsApp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

वर्तमान समय में सिम कार्ड को लेकर टेक्नोलॉजी थोड़ी बहुत बदलने वाली है भविष्य के समय में E-Sim कार्ड लॉन्च किया जाएगा। बड़ी कंपनियों के सीईओ द्वारा भी इस तरह के संकेत सामने आए हैं। हाल ही में भारतीय एयरटेल टेलीकॉम कंपनी के सीईओ गोपाल विट्ठल का यह मानना है कि फिजिकल सिम कार्ड के मुकाबले कई मामले में बेहतर हैं और अभी भी तो आपको पता होगा कई सारे मोबाइल फोंस में भी जैसे एप्पल वगैरह में आपको केवल सिम कार्ड और E- सिम कार्ड का ही ऑप्शन मिलने लगा है। यह सिम कार्ड आपके मोबाइल नंबर में एक बार इंस्टॉल करनी पड़ती है फिजिकल सिम कार्ड की इसमें किसी भी प्रकार की आवश्यकता नहीं पड़ती। क्योंकि भविष्य के साथ टेक्नोलॉजी में भी बहुत बड़ा बदलाव होने जा रहे हैं जैसे-जैसे फिजिकल सिम कार्ड का अस्तित्व ही धीरे-धीरे खत्म हो जाएगा।

सिम कार्ड को लेकर एक बहुत ही महत्वपूर्ण अपडेट यह है कि डेमोग्राफिक डाटा कलेक्ट किया जाएगा अगर कोई कस्टमर अपने पुराने नंबर पर सिम कार्ड खरीदना चाहते हैं तो उसके आधार कार्ड को स्कैन करके उसका डेमोग्राफिक डाटा भी एकत्रित किया जाएगा उसके बाद सिम कार्ड बंद करने का भी यही नियम होगा। यदि किसी व्यक्ति की सिम कार्ड बंद हो जाती हैं और कोई दूसरा व्यक्ति उसे नंबर से सिम निकलवाना चाहता है तो वह व्यक्ति उसकी सिम को 90 दिन तक नहीं निकल पा पाएगा 90 दिन निकल जाने के बादवह सिम कार्ड ले सकता है।

Leave a comment